21 Nov 2019, 21:58:23 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
Sport » Cricket

गोलगप्पे बेचता था यह क्रिकेटर - आज बन गया हीरो

By Dabangdunia News Service | Publish Date: Oct 18 2019 11:16AM | Updated Date: Oct 18 2019 11:16AM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

मुंबई के सलामी बल्लेबाज यशस्वी जायसवाल प्रथम श्रेणी क्रिकेट (वनडे) में दोहरा शतक लगाने वाले सबसे युवा खिलाड़ी बन गए हैं। 17 वर्षीय यशस्वी ने झारखंड के खिलाफ मैच में 154 गेंदों में 203 रनों की पारी खेली। बुधवार को अलुर में खेले गए विजय हजारे ट्रॉफी के एक मुकाबले में यशस्वी ने ये उपलब्धि अपने नाम की। 
 
 वे लिस्‍ट ए क्रिकेट (50 ओवर) में दोहरा शतक लगाने वाले सबसे कम उम्र के बल्‍लेबाज हैं। उन्‍होंने 17 साल की उम्र में ही यह कमाल कर दिया। इससे पहले यह रिकॉर्ड दक्षिण अफ्रीका के एलन बारो के नाम था जिन्‍होंने 1975 में 20 साल 273 दिन की उम्र में दोहरा शतक लगाया था। यशस्‍वी जायसवाल  लिस्‍ट ए क्रिकेट में दोह‍रा शतक लगाने वाले सातवें भारतीय हैं।
 
उनसे पहले सचिन तेंदुलकर, वीरेंद्र सहवाग, रोहित शर्मा (3 बार), शिखर धवन, केवी कौशल और संजू सैमसन ऐसा कर चुके हैं। जायसवाल ने यह कारनामा कर रोहित शर्मा, क्रिस गेल जैसे धुरंधरों को पीछे छोड़ दिया। इन बल्‍लेबाजों ने जब 50 ओवर के क्रिकेट में डबल सेंचुरी लगाई तब इनकी उम्र यशस्‍वी से ज्‍यादा थी।
 
उत्तर प्रदेश के भदोही के इस किशोर के लिए क्रिकेटर बनने की राह आसान नहीं रही। जब वह 2012 में क्रिकेट का सपना संजोए अपने चाचा के पास मुंबई पहुंचा, तो वह महज 11 साल का था। चाचा के पास इतना बड़ा घर नहीं था कि वह उसे भी उसमें रख सके। वह एक डेयरी दुकान में अपनी रातें गुजारता था। दो वक्त के खाने के लिए फूड वेंडर के यहां काम करना शुरू कर दिया। रात में पानी पूरी (गोलगप्पे) बेचा करता था 
 
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »