23 Oct 2019, 08:55:54 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android

अमरनाथ यात्रा में शामिल होने वालों के लिए खुशखबरी। उन्हें अब पंजीकरण के लिए लंबी लाइन में नहीं लगना पड़ेगा। वे घर बैठकर भी आवेदन कर सकते हैं। अमरनाथ श्राइन बोर्ड के अध्यक्ष राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने इच्छुक श्रद्धालुओं के लिए पायलट आधार पर शुरू की गई ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन सुविधा का बुधवार को शुभारंभ किया।
 
इस सुविधा का लाभ लेने के इच्छ़ुक श्रद्धालुओं को प्रति श्रद्धालु 200 रुपए के शुल्क के साथ संबधित राज्य व केंद्र शासित राज्य द्वारा स्वास्थ्य प्रमाण- पत्र जारी करने के लिए नामित डॉक्टर अथवा अस्पताल द्वारा जारी स्वास्थ्य प्रमाण-पत्र को भी अपलोड करना होगा।
 
राजभवन में आयोजित एक सादे समारोह में राज्यपाल ने बोर्ड के अन्य अधिकारियों की मौजूदगी में इस सेवा को शुरू किया। बोर्ड के सीईओ उमंग नरुला ने इस मौके पर बताया कि ऑनलाइन पंजीकरण की सुविधा को पायलट आधार पर शुरू करने का फैसला बोर्ड की गत 7 मार्च 2019 को हुई 36वीं निदेशक मंडल में लिया गया था। उन्होंने बताया कि ऑनलाइन पंजीकरण की सुविधा को एनआईसी की मदद से तैयार किया गया है।
 
श्राइन बोर्ड ने एक नई पहल के तहत यात्रा परिमट प्रपत्र पर क्यूआर और बॉर कोडिंग शुरू की है। क्यूआर कोड को यात्रियों के डाटा बेस में उनके मोबाइल नंबर के साथ जोड़ा जाएगा। यात्रा प्रमाण-पत्र के क्यूआर कोड को दोमेल व चंदनबाड़ी स्थित एक्सेस कंट्रोल गेट व अन्य शिविरों में स्कैन किया जाएगा। इससे रियल टाइम आधारित यात्रियों की गणना और निगरानी हो सकेगी। कंप्यूटर द्वारा जारी यात्रा पर्ची को, जिस पर क्यूआर और बॉर कोड होगा, स्वास्थ्य प्रमाण-पत्र की असल प्रति के साथ दोमेल, चंदनबाड़ी स्थित एक्सेस कंट्रोल गेट पर संबधित अधिकारियों को दिखाना होगा। इसके बिना संबधित श्रद्धालु को यात्रा की अनुमति नहीं होगी।
 
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »