13 Dec 2019, 01:05:58 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android

नई दिल्ली। भारत के रवि राठी के कांस्य पदक मुकाबले में एकतरफा अंदाज में हारने के बाद हंगरी के बुडापेस्ट में अंडर-23 विश्व कुश्ती प्रतियोगिता के ग्रीको रोमन वर्ग में भारत का हाथ खाली रहा। ग्रीको रोमन वर्ग में 77 किग्रा में साजन कांस्य पदक मुकाबले में हारे थे जबकि रवि को 97 किग्रा के कांस्य पदक मुकाबले में बेलारूस के दिमित्री कामिंस्की से 0-8 से हार का सामना करना पड़ा। भारत ने इस अंडर-23 विश्व चैंपियनशिप में दो रजत पदक जीते। पूजा गहलोत ने महिलाओं के 53 किग्रा वर्ग में और रविन्दर ने पुरुष फ्रीस्टाइल के 61 किग्रा में रजत पदक जीते। भारत ने पिछली चैंपियनशिप के एक रजत पदक के प्रदर्शन में सुधार किया। तब रवि कुमार दहिया ने रजत पदक जीता था।

ग्रीको रोमन में 55 किग्रा में अर्जुन हलाकुरकी, 63 किग्रा में रजीत, 87 किग्रा में सुनील कुमार, 60 किग्रा में सचिन राणा, 67 किग्रा में रविंदर, 72 किग्रा में राहुल, 82 किग्रा में नीरज और 130 किग्रा में दीपक पुनिया ने देश को निराश किया। इस बार के नौ पहलवान क्वार्टरफाइनल में पहुंचे। पुरुष फ्रीस्टाइल, महिला और ग्रीको रोमन तीनों वर्गों में भारत के तीन-तीन पहलवान क्वार्टरफाइनल में पहुंचे। भारतीय पुरुष फ्रीस्टाइल टीम ने 48 अंकों के साथ 11वां, महिला टीम ने 12वां और ग्रीको रोमन टीम ने 15वां स्थान हासिल किया। भारत का इस प्रतियोगिता में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन 2017 के पहले संस्करण में रहा था जब बजरंग पुनिया, विनोद कुमार और रितु फोगाट ने रजत पदक जीते थे।

  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »