26 Jul 2024, 00:33:49 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
news

चुनाव नतीजों के बाद पहली बार उठे EVM पर सवाल, 'भारत में EVM एक ब्लैक बॉक्स: राहुल गांधी

By Dabangdunia News Service | Publish Date: Jun 16 2024 12:44PM | Updated Date: Jun 16 2024 12:44PM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव के दौरान विपक्ष ने इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीनों (ईवीएम) का मुद्दा जमकर उठाया, लेकिन जैसे ही चुनाव के नतीजे घोषित हुए तो यह मुद्दा गायब सा हो गया। हालांकि बीच-बीच में नेताओं ने इस पर सवाल जरूर उठाए। जो मुद्दा अचानक गायब सा हो गया था वो फिर से सुर्खियों में आता दिख रहा है। अब कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने ईवीएम को लेकर एक बार फिर से सवाल खड़े कर दिए हैं।

राहुल गांधी ने दुनिया के सबसे अमीर बिजनेसमैन एलॉन मस्क की एक्स पोस्ट को रिपोस्ट करते हुए एक अखबार का हवाला देकर कहा, 'भारत में ईवीएम एक "ब्लैक बॉक्स" है, और किसी को भी उनकी जांच करने की अनुमति नहीं है। हमारी चुनावी प्रक्रिया में पारदर्शिता को लेकर गंभीर चिंताएँ जताई जा रही हैं। जब संस्थाओं में जवाबदेही की कमी होती है, तो लोकतंत्र एक दिखावा बन जाता है और धोखाधड़ी की संभावना बढ़ जाती है।'

राहुल गांधी ने अपनी पोस्ट में मुंबई की घटना का जिक्र किया है। इस मामले में मुंबई पुलिस ने ईवीएम को लेकर शिवसेना शिंदे गुट के सांसद रविन्द्र वायकर के साले मंगेश पांडिलकर के खिलाफ केस दर्ज किया है। मंगेश पांडिलकर पर आरोप है कि उसने मुंबई के गोरेगांव चुनाव सेंटर के अंदर पाबंदी होने के बावजूद मोबाइल का इस्तेमाल किया था।

इसके अलावा पुलिस ने पांडिलकर को मोबाइल देने के आरोप में चुनाव आयोग के एक कर्मचारी के खिलाफ भी मामला दर्ज किया है।इस मामले में पुलिस को नॉर्थ पश्चिम सीट से लड़ने वाले कई उम्मीदवारों व चुनावी आयोग की तरफ से शिकायतें मिली थी,जिसके आधार पर यह मामला दर्ज किया गया है। नॉर्थ पश्चिम सीट से रविन्द्र वायकर दोबारा काउंटिंग होने के बाद महज 48 वोटों से चुनाव जीते थे।।जिसको लेकर काफी विवाद भी हुआ था।

आपको बता दें कि मुंबई उत्तर पश्चिम लोकसभा सीट से शिवसेना (एकनाथ शिंदे गुट) के उम्मीदवार रविंद्र वायकर (Ravindra Waikar) ने सिर्फ 48 वोटों से जीत दर्ज की थी। 2024 के लोकसभा चुनाव में महाराष्ट्र में जीत का ये सबसे छोटा मार्जिन है।

दरअसल मस्क ने अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीनों यानी EVM से नहीं कराने की सलाह दी है। उन्होंने सोशल मीडिया साइट X पर लिखी अपनी पोस्ट में कहा,'इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीनों को खत्म कर देना चाहिए। इसे इंसानों या एआई द्वारा हैक किए जाने का खतरा है, हालांकि ये खतरा कम है, फिर भी बहुत ज्यादा है।'

Elon Musk ने अमेरिका राष्ट्रपति पद के दावेदार रॉबर्ट एफ कैनेडी यूनियर की पोस्ट को शेयर करते हुए यह बात कही। रॉबर्ट एफ कैनेडी ने अपने पोस्ट के शुरू में प्यूर्टो रिको में चुनावों के दौरान EVM में गड़बड़ियों के बारे में लिखा था।  दरअसल, अमेरिकी राष्ट्रपति पद के दावेदार रॉबर्ट एफ कैनेडी यूनियर ने एसोसिएटेड प्रेस का हवाला देते हुए पोस्ट में लिखा, प्यूर्टो रिको के प्राथमिक चुनावों में इलेक्ट्रोनिक वोटिंग मशीनों से जुड़ी वोटिंग में कई खामिया सामने आई हैं। अच्छा है, एक पेपर ट्रेल था, इसलिए इस समस्या को पकड़ा गया और वोटों की संख्या को सही किया गया।

  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »