20 Nov 2019, 07:09:14 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
news

कश्मीर से धारा 370 हटाने का विरोध कर कांग्रेस का असली चेहरा उजागर : योगी

By Dabangdunia News Service | Publish Date: Oct 16 2019 12:29AM | Updated Date: Oct 16 2019 12:29AM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

प्रतापगढ़। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ ने कहा कि कश्मीर से धारा 370 हटाने का विरोध करके कांग्रेस का देश विरोधी असली चेहरा उजागर हो गया और उसकी नकारात्मक सोच का ही परिणाम है कि यह पार्टी लगातार अस्तित्व को खोती जा रही है। योगी मंगलवार को प्रतापगढ़ के गड़वारा स्थित शीतला प्रसाद इंटर कालेज में सदर विधानसभा के लिए हो रहे उप चुनाव के लिए आयोजित चुनावी सभा को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने अपना दल-भाजपा के संयुक्त उम्मीदवार राजकुमार पाल के समर्थन में सभा की। उन्होंने कहा कि जिस भी व्यक्ति के मन में देश से लगाव होगा वह कांग्रेस में रह ही नहीं सकता।
 
जैसा कि राजकुमारी रत्ना ने किया। उन्होंने समाजवादी पार्टी (सपा) और बहुजन समाजपार्टी (बसपा) पर निशाना साधते हुए कहा कि इन दलों ने हमेशा जाति, मजहब और क्षेत्रवाद की राजनीति की। इनके एजेंडे में कभी विकास कार्य रहा ही नहीं। यह मोदी सरकार और प्रदेश सरकार की योजनाओं पर सवाल कर रहे हैं। योगी ने कहा कि मोदी सरकार ने अपने पांच साल और प्रदेश सरकार ने अपने ढाई साल के कार्यकाल में तेजी से विकास कार्य किया है। योगी ने तीन तलाक जैसे मुद्दे पर मोदी को सराहा। आयुष्मान भारत, प्रधानमंत्री आवास योजना, स्वच्छ भारत मिशन, सौभाग्य एवं उज्वला योजना जैसी तमाम योजनाओं के लाभ भी गिनाए।
 
उन्होंने कहा कि देश के तीन करोड़ किसानों को लाभ मिला है। इस मौके पर कांग्रेस से भाजपा में शामिल होने पर पूर्व सांसद रत्ना सिंह ने कहा कि वह प्रधानमंमत्री मोदी और श्री योगी की सोच और देश में हो रहे विकास को देखकर भाजपा में शामिल हुई हैं। सभा में अपना दल अध्यक्ष अनुप्रिया पटेल के अलावा प्रदेश  के मंत्रियों में राजेंद्र प्रताप सिंह मोती सिंह, स्वामी प्रसाद मौर्य, नीलकंठ तिवारी, रमाशंकर पटेल, सांसद संगम लाल गुप्ता एवं कौशाम्बी सांसद विनोद सोनकर, विधायक धीरज ओझा, डा.आरके वर्मा, क्षेत्रीय अध्यक्ष महेश चंद्र श्रीवास्तव, नपा अध्यक्ष प्रेमलता सिंह, पूर्व विधायक हरि प्रताप सिंह, बृजेश मिश्र सौरभ, राजा अनिल प्रताप सिंह, शिवशंकर सिंह, शिव प्रकाश मिश्र सेनानी, संजय सिंह ने भी अपने विचार व्यक्त किये। 
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »