23 Jun 2024, 13:50:56 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
news

बांग्लादेशी सांसद की हत्या का मास्टरमाइंड निकला दोस्त, कत्ल में महिला भी शामिल, मारकर टुकड़े-टुकड़े कर डाले

By Dabangdunia News Service | Publish Date: May 23 2024 4:48PM | Updated Date: May 23 2024 4:48PM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

बांग्लादेश के अवामी लीग के सांसद अनवारुल अजीम की हत्या के मामले में एक के बाद एक सनसनीखेज जानकारी सामने आई है। राज्य पुलिस की ओर से दी गई जानकारी के मुताबिक, इस घटना में तीन लोगों को गिरफ्तार किया गया है। ढाका पुलिस ने सैयद अमानुल्लाह, मुस्तफिजुर और फैसल अली नाम के तीन लोगों को ढाका से गिरफ्तार किया है। उनसे पूछताछ के बाद एक नया नाम सामने आया है। अख्तरुज्जमां उर्फ ​​साहिन सांसद हत्याकांड का ‘मास्टरमाइंड’ था।

बता दें कि अख्तरुजम्मां अमेरिकी नागरिक है। उसका मूल घर बांग्लादेश के जेनाइदाह इलाके में कोटचंदपुर है। आरोपी का भाई उस इलाके का मेयर है। वह मृत सांसद का दोस्त भी था। अख्तरुजमां की मृतक सांसद से व्यापारिक दुश्मनी थी। और उससे इसे हत्या माना जा रहा है। बता दें कि बांग्लादेश के सांसद की 13 मई को हत्या कर दी गई थी और उनका गला घोंट दिया गया था। हत्या के बाद उनके शव को टुकड़े-टुकड़े किए गए थे और फिर उसे फ्रीजर में रख दिया गया था।

पुलिस का कहना है कि सांसद की हत्या में करीब सात लोग शामिल हैं। इनमें से छह बांग्लादेशी हैं। आरोपियों की सूची में अख्तरुजमां की प्रेमिका शिलास्ती रहमान का नाम है। हत्या से पहले अख्तरुज्जमां खुद कोलकाता स्थित फ्लैट पर पहुंचा था। उनके साथ गर्लफ्रेंड शिलास्ती भी थीं। पुलिस का कहना है कि अख्तरुज्जमां देश वापस लौटे बिना नेपाल भाग गया। बांग्लादेशी पुलिस सूत्रों के मुताबिक, आरोपी अमानुल्लाह को अख्तरू जम्मानी ने काम पर रखा था। हत्या के लिए करीब पांच करोड़ रुपये की सुपारी दी गई थी।

दूसरी ओर, इसी अमानुल्लाह ने जिहाद और सियाम नाम के दो बांग्लादेशी साथियों को अवैध रूप से सीमा पार करवाकर कोलकाता में किराये के फ्लैट में रहने के लिए पहुंचाया था। अमानुल्लाह ने मुस्तफिजुर और फैसल नाम के दो लोगों को हत्या की सुपारी दी थी। जांच के मुताबिक, जिहाद और सियाम को छोड़कर बाकी लोग वैध दस्तावेजों के साथ भारत आए थे। हत्या के बाद वे अलग-अलग ढाका लौट गये।

बात यहीं खत्म नहीं हुई। सांसद की हत्या के बाद शव भारतीय साथी को सौंप दिया गया। अमानुल्लाह ने पूछताछ के दौरान बांग्लादेशी पुलिस को यह बात बताई। पुलिस अब आरोपी भारतीय की तलाश कर रही है। बांग्लादेशी सांसद की हत्या की सनसनीखेज जानकारी सामने आई है। दो मुख्य आरोपी मुस्तफिजुर और फैजल अली 11 दिनों तक कोलकाता के पार्क स्ट्रीट के सदर सदर स्ट्रीट स्थित एक होटल में रूके थे। बांग्लादेश सांसद की हत्या के मामले में बांग्लादेश पुलिस द्वारा गिरफ्तार किए गए तीन लोगों में ये दो लोग मुख्य आरोपी हैं। दोनों आरोपियों ने वैध नागरिकता (पासपोर्ट) दिखाकर होटल में प्रवेश किया था।

  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »