20 Nov 2019, 11:35:04 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
news » National

मोदी बोले - एक समय था जब मुंबई धमाकों से दहल जाता था, कभी बस तो...

By Dabangdunia News Service | Publish Date: Oct 16 2019 1:10PM | Updated Date: Oct 16 2019 1:10PM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

मुंबई। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को महाराष्ट्र के अकोला में चुनावी रैली को संबोधित किया। उन्होंने कहा कि राष्ट्रवाद को हमने राष्ट्र निर्माण के मूल में रखा, ये सावरकर के संस्कार हैं। पीएम मोदी ने कहा कि पहले से ज्यादा मजबूत सरकार बनाने के लिए आज मैं आपसे आशीर्वाद मांगने आया हूं। उन्‍होंने कहा कि बीते 5 वर्ष में महायुति की सरकार ने दिखा दिया है कि महाराष्ट्र को कौन सा गठबंधन ईमानदारी के साथ आगे ले जा सकता है और कौन सा दल उसे विकास की नई ऊंचाइयों पर पहुंचा सकता है। 
 
पीएम मोदी ने कहा ये वीर सावरकर के ही संस्कार हैं कि राष्ट्रवाद को हमने राष्ट्र निर्माण के मूल में रखा है। वहीं दूसरी तरफ वो लोग हैं जिन्होंने बाबा साहब का कदम-कदम पर अपमान किया, उन्हें दशकों तक भारत रत्न से दूर रखा। ये वो लोग हैं, जो वीर सावरकर का अपमान करते हैं।
 
जम्मू कश्मीर और लद्दाख में बाबा साहब आंबेडकर के संविधान को पूरी तरह लागू न करने के प्रयासों के पीछे भी ऐसे ही लोगों की दुर्भावना है।
उन्होंने कहा कि ये एक भारत, श्रेष्ठ भारत नहीं चाहते बल्कि इनको बंटा हुआ भारत चाहिए, बिखरा हुआ भारत चाहिए, एक दूसरे के खिलाफ लड़ता हुआ भारत चाहिए। पीएम मोदी ने कहा कि एक समय था जब आए दिन महराष्ट्र में बम धमाके होते थे, मुंबई दहल जाता था।
 
कभी ट्रेन में, कभी बस में, कभी अहम इमारतों पर, आए दिन बम-गोले, आए दिन हिंसा, आतंकवाद। उस उस समय जिन लोगों पर सवाल उठे बम धमाकों के मास्टरमाइंड बचकर निकल गए... दुश्मान देशों में जाकर बसेरा बना लिया। आज हिन्दुस्तान उन लोगों को पूछता है आखिर ये कैसे हुए... ये देश पूछता है इतने बड़े गुनाहगार कैसे भाग गए।
 
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »