18 Aug 2019, 07:11:31 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
news » National

बालाकोट एयर स्ट्राइक पर बड़ा खुलासा, 45 आतंकी अब भी अस्पताल में

By Dabangdunia News Service | Publish Date: May 9 2019 10:38AM | Updated Date: May 9 2019 10:38AM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

नई दिल्ली। कश्मीर के पुलवामा में हुए आतंकी हमलों के बाद भारत द्वारा पाकिस्तान के बालाकोट में की गई सर्जिकल स्ट्राइक को लेकर इटली के एक पत्रकार ने बड़ा खुलासा किया है। पत्रकार फ्रेंसेसा मैरिनो ने STRINGERASIA.IT में इस घटना के बारे में सब कुछ छाप कर पाक के झूठ की पोल भी खोल दी है। 
 
मैरिनो ने लिखा है कि 'भारतीय वायु सेना ने तड़के साढ़े तीन बजे हमला किया। मेरी सूचना के मुताबिक, शिंकयारी आर्मी कैंप से सेना की एक टुकड़ी घटनास्थल पर पहुंची।' 'सेना की टुकड़ी हमले के दिन सुबह 6 बजे घटनास्थल पर पहुंची। शिंकयारी बालाकोट से 20 किलोमीटर दूर है और यह पाकिस्तान आर्मी का बेस कैंप भी है। इस जगह पर पाकिस्तानी सेना की जूनियर लीडर्स एकेडमी भी है। 
 
आर्मी की टुकड़ी के बालाकोट पहुंचते ही वहां से कई जख्मी लोगों को पाकिस्तान आर्मी के अस्पताल पहुंचाया गया। स्थानीय सूत्रों के मुताबिक आर्मी कैंप के अस्पताल में अभी भी तकरीबन 45 लोगों का इलाज चल रहा है। इलाज के दौरान 20 लोगों की मौत हो चुकी है।' 
 
'इलाज के बाद जो लोग स्वस्थ हो गए हैं उन्हें पाकिस्तान आर्मी ने अपनी कस्टडी में रखा है और उन्हें अस्पताल से डिस्चार्ज नहीं किया गया है। कई हफ्तों में छानबीन कर अपने सोर्स के माध्यम से जो जानकारी मैंने जुटाई है, उसके मुताबिक कहा जा सकता है कि हमले में जैश-ए-मोहम्मद के कई कैडर मारे गए हैं। 
 
मृतकों की संख्या 130-170 तक हो सकती है। इसमें वे लोग भी हैं जिनकी मौत इलाज के दौरान हुई है।' मैरिनो ने कहा कि जो आतंकी मारे गए उनमें से कुछ बम बनाने और हथियार चलाने की ट्रेनिंग देने वाले भी लोग हैं। जिन परिवारों के लोग इस हमले में मारे गए, उनकी ओर से कोई जानकारी बाहर लीक न हो, इसके लिए भी जैश ए मोहम्मद ने पूरे बंदोबस्त किए। मृतकों के घर जाकर जैश के आतंकियों ने मुआवजा तक दिया।'
 
गौरतलब है कि 14 फरवरी को जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में आर्मी की के काफिलें के साथ बारूद से भरी कार को टक्कर मारकर हमला किया था। इस हमले में 40 भारतीय जवान शहीद हो गए थे। जिसके बाद से पूरा देश अक्रोश में था। शहीदों की शहादत का बदला लेने के लिए भारत ने एलओसी पास कर पाकिस्तान के बालाकोट में एयर स्ट्राइक की थी। सेना ने 300 से अधिक आतंकियों को मार गिराया था और वहां पल रहे आतंकी ठिकानों को ध्वस्त कर दिया था। 
 
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »