18 Jun 2019, 22:27:00 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
news » National

दसवीं में भी लड़कियों ने मारी बाजी,13 छात्र संयुक्त टॉपर

By Dabangdunia News Service | Publish Date: May 6 2019 4:13PM | Updated Date: May 6 2019 4:13PM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

नई दिल्ली। केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड की 10वीं की परीक्षा में भी लड़कियों ने लड़कों से बाजी मार ली है और लड़कियों का उत्तीर्ण प्रतिशत लड़कों की तुलना में 2.31 फीसदी अधिक रहा है। इस बार 13 छात्र 499 अंक लेकर संयुक्त टॉपर रहे जबकि 25 छात्र 498 नंबर लेकर संयुक्त रूप से दूसरे स्थान पर रहे और 59 छात्र 497 अंक लेकर तीसरे स्थान पर रहे। इस बार 10वीं की परीक्षा में 92.45 प्रतिशत लड़कियां उत्तीर्ण हुईं जबकि 90.14 प्रतिशत लड़के पास हुए।

पिछले साल 88.67 प्रतिशत लड़कियां पास हुईं थी और लड़कों का उत्तीर्ण प्रतिशत 85.32 प्रतिशत था। दसवीं की परीक्षा में इस बार रिजल्ट पिछले साल की तुलना में 4.40 प्रतिशत अधिक रहा। पिछले साल 86.70 प्रतिशत  छात्र उत्तीर्ण हुए थे जबकि इस वर्ष 91.10 प्रतिशत छात्र पास हुए। इस वर्ष तिरुवनंतपुरम क्षेत्र के छात्रों का रिजल्ट सबसे अधिक 99.85 प्रतिशत रहा और सबसे कम गुवाहाटी 74.49 प्रतिशत रहा जबकि दिल्ली 80.97 प्रतिशत के साथ नौवें स्थान पर रहा।

केंद्रीय विद्यालय के 99.47 छात्र पास हुए जबकि जवाहर नवोदय विद्यालय के 98.57 प्रतिशत छात्र उत्तीर्ण हुए। सरकारी स्कूलों का पास प्रतिशत 71.91 प्रतिशत रहा जबकि सरकार द्वारा अनुदान प्राप्त स्कूलों के नतीजे 76.95 प्रतिशत रहे। स्वतंत्र स्कूलों का प्रतिशत 94.15 प्रतिशत रहा। यह परीक्षा पन्द्रह फरवरी से चार अप्रैल तक 19 हजार 298 स्कूलों के चार हजार 974 केंद्रों पर हुई। परीक्षा में 16 लाख, चार हजार 428 छात्र पास हुए। 

इनमें किन्नर छात्रों का रिजल्ट 94.74 प्रतिशत रहा जो पिछले साल की तुलना में 11.41 प्रतिशत अधिक है। विदेशों में सीबीएसई के 23 हजार 494 छात्रों ने परीक्षा दीं जिनमें 23 हजार 200 छात्र पास हुए और उनका पास प्रतिशत 98.75 रहा। दिल्ली में तीन लाख 25 हजार 638 छात्र पंजीकृत थे जिनमें तीन लाख 22 हजार 76 छात्रों ने परीक्षाएं दी और उनमें दो लाख 60 हजार 789 छात्र पास हुए। इस तरह उनका प्रतिशत 80.97 रहा जो जबकि पिछले साल 78.62 प्रतिशत था।

चेन्नई क्षेत्र का प्रतिशत 99, अजमेर का 95.89, पंचकुला का 93.72, प्रयागराज का 92.55, भुवनेश्वर का 92.32, पटना का 91.86, देहरादून का 89.04, दिल्ली 80.97 और गुवाहाटी का 74.49 प्रतिशत रहा। 499 से लेकर 497 अंक प्राप्त करने वाले कुल 97 छात्र हैं। नब्बे प्रतिशत से अधिक दो लाख 25 हजार 143 छात्रों ने 90 प्रतिशत से अधिक नंबर प्राप्त किये जबकि 95 प्रतिशत से अधिक 97 हजार 256 छात्रों ने प्राप्त किया। इस तरह 12.78 प्रतिशत अधिक छात्रों ने 90 से अधिक तथा 3.25 प्रतिशत से अधिक छात्रों ने 95 प्रतिशत से अधिक अंक प्राप्त किये। दिव्यांग छात्रों में टॉप दिलवीन प्रिंस को 493 अंक मिले जबकि सवन विषोय को 492 तथा इरेने तेरेसा मैथ्यू को 491 अंक मिले। 

 
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »